bina paise ke business kaise kare in hindi 2020

 बिना पैसे के बिज़नेस कैसे करे How to start Business with no money in hindi –

bina paise ke business kaise kare in hindi
बिज़नेस स्टार्ट करते समय सबसे महम बात आती है ! कि बिना पैसे के BUSINESS कैसे स्टार्ट करे आज के इस आर्टिकल में जानेंगे कि bina paise ke business kaise kare in hindi  इस पोस्ट में जो भी बाते बताई गई वह सब ऑथर ने बुक में बताया है !
Author ( लेखक ) –
How to star business with no money in hindi
बुक्स नाम  – Rework 
बहुत सारे लोग को लगता है। कि BUSINESS बहुत बड़ी बात है ! बिज़नेस करने के लिए बहुत सारी मेहनत, बहुत सारे पैसे लगता है। but ऐसा नही है ! बहुत सारे लोग Business करने के लिए सोचते है – तो वह डायरेक्ट  Tata, Ambni, Elon Musk, Bill Gates बनाने के बारे में सोचते है ! जोकि सही नही है !
Author कहते है – कि अच्छा होगा कि आप ऐसा Side Business के बारे में सोचो जोकि आपको Profitable, Sustainble तथा Side Income कमा के दे सके ! इसलिए ऑथर कहते है यह सब चीजे आप कम पैसे तथा अपना जॉब छोड़े बिना easliy कर सकते हो !

इसलिए में आपको आज के इस Business Books Summary में कुछ ऐसे सीक्रेट के बारे में बताऊंगा जिस आप जानके एक अच्छा बिज़नेस स्टार्ट कर सकेंगे ! इसके 4 प्रिंसिपल सीक्रेट है ! bina paise ke business kaise kare in hindi 

Principle 1 Scratch The itch  –

Fast Story 1 –

विस्फिरथ जोकि एक अच्छे आर्केस्ट ड्रम प्लेयर थे ! कई सालो तक ड्रम बजाते – बजाते उन्होंने एक बात नोटिस कि जो ड्रम बजाने वाला स्टिक होता था, वह एक दूसरो से सिमिलर तथा डेंसिटी में सेम नही होती थी ! जिसके कारण से सेम पिच और सेम अवाजे नही निकलती थी !

और यह चीज उन्हें बहुत परेशान करती थी। इसीलिए उन्होंने क्या किया वह अपने बेसमेंट में गए और वह Research करके उन्होंने खुद से Sem Weight, Sem Density वाले ड्रम स्टिक्स बनाये !

जिसे उन्होंने बाद में नाम दिया The Perfect Pair उनकी यह स्टिक इतने फेमस हो गए ! की आज उनकी Company जो ड्रम स्टिक्स बनती है। 62 % मार्किट को कबर करती है ! bina paise ke business kaise kare 


Second Story 2  – 

ऐसे ही Bill Boweman एक ट्रैक कोच थे ! उन्हें जब अपने स्टूडेंट्स के लिए एक परफेक्ट Light Weight शूज नही मिल रहे थे ! मार्किट में तब वह खुद एक लोकल वर्कर के रूप में एक वर्कशॉप में गए !

जहाँ पर उन्होंने रबर को मशीन में डालकर खुद से एक शूज बना डाले ! जो मजबूत भी थे और लाइट वेट भी थे ! जो बनाने के बाद सबको पसंद आये ! और यही से फिर Nike Company की शुरवात हुई। जिसे आज Allmost हर इंसान जानता है !


Story 3 –  

सिमिलरी ऑथर ने स्टार्टिंग में एक कंसल्टिंग फर्म स्टार्ट किया था ! जब वह अलग – अलग कंपनी के प्रोजेक्ट को हैंडल कर रहे थे। तब उन्होंने नोटिस किया कि कितने सारे प्रोजेक्ट को मैनेज करने के लिए कोई एक अच्छा टूल्स उपलब्ध नही है ! मार्किट में

इसीलिए उन्होंने अपने पार्टनर के साथ मिलकर एक सॉफ्टयेर रेडी किया ! जो प्रोजेक्ट को easliy मैनेज कर सके ! सच में यह बहुत काम की चीज थी। इसीलिए इसकी जरूरत कंपनी को दिखने लगी ! फिर क्या सब उनसे उनका सॉफ्टयेर खरीदने लगे। ऐसे ही उनका बिज़नेस स्टार्ट हो गया ! जो आज उन्हें मिलियनस ऑफ़ डॉलर कमा के दे रहा है !


यह 3 एक्साम्प्लेस से नोटिस करोगे तो हर इंसान को Starting में खुद अपने Life में प्रोब्लेम्स महसूस हुई ! इसीलिए लिए उन्होंने क्या किया उस प्रोब्लेम्स को ख़त्म करने के लिए एक काम का सोलूशन्स बनाया !

सेम इसी तरह आप भी नोटिस करो day to day लाइफ में की आपको क्या प्रॉब्लम फेस करनी पड़ती है ! और कैसे आप उस प्रॉब्लम को अच्छा प्रोडक्ट बनाकर खत्म कर सकते हो !

आपका मेन ऐम यही होना चाहिए कि आप रियल Problems को Solve कर पाओ अगर बेस्ट है अगर प्रोब्लेम्स आपकी हो ! क्युकी आपकी खुद की प्रॉब्लम का सलूशन आपको सबसे अच्छे से समझ में आएगा ! जिस आप जल्दी बेटर एक्शन ले पाओगे ! प्रोडक्ट बनाते हुए वरना दूसरो के प्रॉब्लम को सलूशन को सर्च करना एक बार अँधेरे में तीर चलना जैसा होगा !


Principle 2 With Core Minimum – :

मै आपसे एक Question पूछता हूँ समझो कि आपको पिज़्ज़ा बेचने का बिज़नेस करना है ! तो इस आईडिया को एक Successful Business बनाने के लिए क्या चीज का होना सबसे ज्यादा जरुरी है ! जिसके बिना आपका बिज़नेस होगा ही नही एक अच्छी शॉप, एक अच्छे एम्प्लाइज या क्या ? 

वेल सबसे इम्पोरेन्ट चीज होगा ! आपका बर्गर जो बहुत अच्छे होने चाहिए। भले आपके पास अच्छी दुकान न हो अच्छे एम्प्लाइज न हो फिर भी लोग दूर से दूर बर्गर खाने आएंगे, अगर वह बहुत अच्छे होंगे तो  !

इसीलिए यह टेस्टी बर्गर आपके Business का Core होगा ! जिसे आपका स्टार्ट में ज्यादा फोकस होना चाहिए ! क्युकी ज्यादातर लोगो की यह प्रॉब्लम है। अपने Core से हट कर दूसरे चीजों पर टाइम एनर्जी पैसे स्टार्ट में ही करने लगते है ! जोकि समझदारी नही होती है !

Example – ऑथर ने जब अपना बसेकंप का बिज़नेस स्टार्ट किया था ! तब उन्होंने Core पर ध्यान रखते हुए मिनिमम पैसे खर्च किए उन्होंने खुद का ऑफिस खोलने के बजाय शेयर्ड ऑफिस यूज़ किया कई सर्वर यूज़ करने के बजाय एक अच्छा सर्वर यूज़ किया ! कस्टमर टीम सपोर्ट रखने के बजाय खुद सारे calls और emails  के Answer दिए !

ऐसे आप भी स्टार्टिंग में बस Must Have चीजों पर फोकस करो न की Nice to Have चीजों पर एक अच्छी डिग्री का होना Nice To Have है ! लेकिन चाहो तो आप Google, Youtube से भी आप बहुत कुछ सीख सकते हो ! 

अपने जॉब को क्विट करके बिज़नेस स्टार्ट करना अच्छा है ! लेकिन बहुत बार एक्स्ट्रा टाइम निकलकर TV शो देखने के बजाये, सोशल मीडिया पर टाइम वेस्ट करने बजाय आप थोड़ा कम सोके भी आप बिज़नेस को हैंडल कर सकते हो !

देखो मेन बात यह है – कि आज के टाइम टेक्नोलॉजी से भरी दुनिया में सीखना बहुत आसान हो गया है ! कल जो चीज करना इम्पॉसिबल था ! आज वह आप कंप्यूटर से कर सकते हो ! 

इसीलिए आप सच में अपने आप से पूछो या लिखो पेपर में की क्या चीज लगती है.आपको बिज़नेस स्टार्ट करने के लिए चाहिए और फिर सिरसली आप देखो की सच में आपको इन चीजों की जरुरत है ! जो आपको बिज़नेस स्टार्ट करने में हेल्प करेगा !


Principle 3 Fight Passionately  -:

किसी Problems का मिनिमम खर्च के साथ सलूशन निकलने के बाद आप बिज़नेस स्टार्ट करोगे तो नेक्स्ट मेन Question यह आएगा कि आप कैसे इस भीड़ में अलग दिख पाओगे ! 

जिसे लोग आपके बिज़नेस को चॉइस करेंगे वेल एक सबसे अच्छा तरीका होगा कि ! आप यह सब पॉसिबल कर सकते हो वह है अपने कॉम्पिटिटर ब्रांड से फाइट लेके ! 

Example –  बर्गर किंग अपने मार्किट वैल्यू को समझते हुए अपने कस्टमर को बताता है – कि वह मक्डोनल्ड जैसे नही है ! उनके बर्गर के टेस्ट मक्डोनल्स जैसे नही है ! उससे कही ज्यादा अच्छे है उनके बर्गर ! 


स्टोरी 1 –  ऐसे ही Audi  Anti – Old Luxury Cars बोलकर मार्किट करती है ! वह अपने हद से बाहर जाके ल Lexus Mercedes ब्रांड का मजाक उड़ाती है अपने एड्स में वह बताती है कि वह कैसे उनके जैसे नही है !

ऐसे आप देखोगे कि एक कंपनी दूसरे कंपनी से कैसे फाइट करते रहते है ! क्यों क्युकी हमें पता है इंसान को किसी दूसरे कि साइड लेना पसंद होता है ! और जब हम कोई भी साइड लेते है। तो हम इमोशनली अटैच हो जाते है ! चीजों से आप भी जो चीज दिल से बिलीव करोगे उसे आप हक़ से जरूर बोलोगे !

और आप जैसा नही सोचता बिलीव नही करता उससे चैंलेज लोगे तो वह लोग आपके जैसे सोचते है ! तो वह लोग आपको बहुत ज्यादा सपोर्ट करेंगे ! और आपके ब्रांड्स को यूज़ भी करेंगे ! bina paise ke business 


 Principle 4  Withless -:

हार्वर्ड, कैंब्रिज यह सब दुनिया कि सबसे अच्छी यूनिवर्सिटीज में से एक मानी जाती है ! लेकिन कभी अपने सोचा है। यह इतनी सक्सेस होने के बावजूद भी अलग – अलग देशो में ब्रांचेस क्यों नही खोलते है ! क्युकी उनके लिए ऐसा करना कोई मुश्किल तो चीज नही होगी। लेकिन वह ऐसा क्यों नही करते है !

वेल उन्हें पता है –कि कम के साथ कम्पीट करना अच्छा होता है ! वह जानते है कि वह बहुत सारी यूनिवर्सिटीज खोल देंगे दुनिया भर तो उनमे वह क्वालिटी वह बात नही रह जाएगी जो आज है ! 

ज्यादातर बिज़नेस स्टार्ट करने लोगो को देखोगे तो नंबर्स के साथ कम्पीट करते हुए मिलेंगे उन्हें लगता है। कि ज्यादा होना की अच्छा होना ज्यादा वर्कर का होना, ज्यादा फ्यूचर प्रोडक्ट में यह तक उन्हें लगता है – कि रेस्टोरेंट्स के मेनू में ज्यादा ऑटम होंगे तो वह रेस्टोरेंट ज्यादा चलेगा ! लेकिन ऑथर बोलते है – कि ऐसा नही है !

Example  –  जहॉ ऑथर रहते थे. वह रहते – रहते उन्होंने 2 कॉफ़ी शॉप को Try किया करते थे ! पहले शॉप में जब वह जाते थे। वहा वह मेनू को देखते ही कंफ्यूज हो जाते थे। क्युकी वह इतने सारे अलग – अलग कॉफी लिखा हुआ रहता था !

जिसमे वह Allmost  सारी कॉफ़ी Try करने के बाद भी उन्हें वह मजा नही आता था ! उनकी क्वालिटी इतनी अच्छी भी नही होती थी !

फिर उन्होंने जब दूसरे कॉफ़ी शॉप में Try किया तो वह बस Four Types  के कॉफ़ी बेचा करते थे ! जिसमे से चॉइस करना इजी था ही और सबसे अच्छी बात यह थी. कि वहा की क्वालिटी हद से ज्यादा अच्छी थी ! क्यों ? क्योकि वहा कम आइटम पर फोकस करके उन्हें वह बहुत अच्छे से बनाते थे ! जिसका रिजल्ट यह हुआ की ऑथर हमेशा वही जाने लगे !

ऐसे आप देखोगे ज्यादातर लोग गलती करते है ! अपने बिज़नेस में अगर कॉम्पिटिटर अगर 2 फ्यूचर दिया है. तो वह 3 फ्यूचर देंगे। अगर कपर्टिटोर 3 फ्यूचर दिया है. तो वह 4 फ्यूचर देंगे और वह ऐसे ही कम्पीट करते रहते है ! जिससे उनके प्रॉफिट भी नही होते है। और क्वालिटी भी खरब होने लगती है  !

जब कि वह उन चीज पर फोकस करके एकदम बेस्ट क्वालिटी की एक ही चीज देंगे तब उनके Success के चॉइस बहुत ज्यादा बढ़ जायेंगे ! तभी वह छोटे रहकर बड़ो से टकर ले पाएंगे न की नंबर्स बढ़ाके !

इसीलिए आप भी स्टार्टिंग में Less के साथ कम्पीट करो इससे आपके पैसे बचेंगे, प्रॉफिट ज्यादा होगा और आप बहुत जल्दी आगे बढ़ पाओगे ! 

इस बुक्स समरी को एन्ड करने से पहले Bons Lession जो ऑथर सीखते है ! वह यह की ज्यादातर लोग आपको फेलियर से सीखने को बोलेंगे लेकिन सच तो या है। की फेलियर से क्या करना चाहिए यह सीख ही नही सकते हो बल्कि क्या नही सीखना चाहिए या सीख सकते हो ! 

इसीलिए ऑथर बोलते है – कि आप सक्सेस से सीखो या जो लोग सक्सेसफुल बिज़नेस क्रीट कर चुके है ! उनसे सीखो तभी आप जल्दी आगे बढ़ पाओगे !

ऑथर कहते है कि मेरे पास दो लोग है ! जिसमे से एक लोग MBA किए हुए है। और दूसरे लोग Rework बुक्स पढ़े हुए है – तो मै दूसरे वाले इंसान को जॉब दूंगा ! क्युकी उसके पास मार्किट का नॉलेज पहले से ही है !

अगर आप इस बुक्स के और भी डिटेल्स के बारे में जानना चाहते है ! तो मै आपको बुक्स का लिंक नीचे दे दूंगा ! यह बिज़नेस से रिलेटेड बहुत फेमस बुक्स है ! 

  • बुक्स का लिंक  –  Rework 

आपको यह भी पढ़ना चाहिए  -:

I hope आपको bina paise ke business kaise kare इसके बारे में अच्छे से पता चल गया होगा ! अगर आपका कोई सवाल हो बिज़नेस से रिलेटेड तो आप पूछ सकते है, ईमेल या कमेंट के माध्यम से  !

इसीलिए आप भी इसी तरह के Business books और Business Skills को हमेशा सीखना चाहते है। तो आप हमारे ब्लॉग को सब्सक्राइब कर लीजिये ! जिससे की हम जब भी कोई नया पोस्ट डालें तो आपको नोटिफकेशन जरूर मिले !

थैंक्स फॉर रीडिंग 

” किसी भी बड़े बिज़नेस की शुरवात एक छोटे बिज़नेस से होती है “

Roshan kumar

मै इस ब्लॉग का संस्थापक हूँ। मुझे बिज़नेस स्किल्स, बिज़नेस बुक्स तथा स्टार्टअप बिज़नेस के बारे में सीखना अच्छा लगता है ! इसीलिए में इसकी जानकारी लोगो को हिंदी में देता हूँ। जिससे वह एक सक्सेसफुल बिज़नेस की शुरवात कर सके ! ❤

2 thoughts on “bina paise ke business kaise kare in hindi 2020

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: